अंतराष्ट्रीय कला शिविर में चित्रकार कामिनी बघेल ने की शिरकत

Bundelkhand Art Society

कामिनी बघेल झाँसी की जानी-मानी चित्रकार हैं। कामिनी बघेल ने कानपुर में आयोजित अंतराष्ट्रीय कला शिविर में भाग लिया। इस शिविर में देश-विदेश के अन्य कई चित्रकार भाग ले रहे थे।

कला शिविर में कामिनी बघेल

झाँसी की चित्रकार कामिनी बघेल ने हाल ही में 14 नवम्बर से 20 नवम्बर के मध्य कानपुर में आयोजित अंतराष्ट्रीय कला शिविर में भाग लिया। उन्होंने अपनी कला से वहां आये कई कलाकारों व कला प्रेमियों का दिल मोह लिया|

विशेषकर इस अंतराष्ट्रीय कला शिविर में देश-विदेश के 53 कलाकारों ने भाग लिया। झाँसी से कामिनी बघेल झाँसी का प्रतिनिधित्व कर रहीं थी।छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय कानपुर के ललित कला विभाग में आयोजित अंतराष्ट्रीय कला शिविर में देश-विदेश के लगभग 53 चित्रकारों ने हिस्सा लिया था| इस शिविर में झाँसी से उन्हें आमंत्रित किया गया था|

कामिनी बघेल
कामिनी बघेल

ये भी पड़ें


अंतराष्ट्रीय कला शिविर कानपुर

इस शिविर में नेपाल, कजाकिस्तान, श्रीलंका, बांग्लादेश, भूटान आदि देशों के चित्रकारों ने प्रतिभाग किया था। इन सभी चित्रकारों ने एक हफ्ते की शिविर में अपनी-अपनी प्रतिभा का परिचय देते हुए दो- दो चित्रों का सृजन किया।

इस प्रकार का अंतराष्ट्रीय कला शिविर कानपुर में पहली बार आयोजित किया गया। चित्रकार कामिनी को इस शिविर में रूपये 21000 की राशि सम्मान के तौर पर प्रदान की गयी।

प्रदर्शनी के साथ-साथ सेमिनार का भी आयोजन

19 व 20 तारीख को बनाये गये चित्रों की प्रदर्शनी व एक अंतराष्ट्रीय सेमिनार भी आयोजित किया गया था| सभी कलाकारों ने 70 से अधिक बहुत ही सुंदर कृतियों का सृजन किया। इस शिविर के समापन समारोह में विशिष्ट 10 चित्रकारों को सम्मानित किया गया था। उन 10 चित्रकारों में से एक कामिनी बघेल भी थी।

समापन समारोह

कार्यक्रम के अंत में समापन समारोह आयोजित किया गया। समापन समारोह में मुख्य-अतिथि राज्यमंत्री नीलिमा कटियार थीं। अन्य गणमान्य लोगों में राज्य ललित कला अकादमी के चेयरमैन डॉ. आर एस पुंढीर तथा सचिव डॉ. यशवंत सिंह राठौर भी मौजूद थे।

इन सभी अतिथियों ने शिविर में प्रतिभाग कर रहे चित्रकारों को प्रमाण-पत्र तथा स्मृति-चिन्ह वितरित किए। इसके अतिरिक्त शिविर में डॉ. संदीप सिंह, डॉ. प्रवीण कटारिया, डॉ. शाश्वत कटारिया, डॉ. प्रेमा मिश्र, व डॉ. अजय गुप्ता मौजूद रहे | कामिनी बघेल की इस उपलब्धि पर बुंदेलखंड आर्ट सोसाइटी उनको हार्दिक बधाई व शुभ-कामनाएँ देती है।


Latest Posts


2 thoughts on “अंतराष्ट्रीय कला शिविर में चित्रकार कामिनी बघेल ने की शिरकत”

  1. Kamini Baghel

    कला और कलाकार के लिए बुंदेलखंड आर्ट सोसाइटी बहुत अच्छा काम कर रही है मेरी ओर से बहुत-बहुत बधाई

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *